Achambhe Ka Rona

As low as ₹382.50 Regular Price ₹450.00
You Save 15%
In stock
Only %1 left
SKU
Achambhe Ka Rona
- +

अखिलेश की यह किताब कुछ चित्रकारों और उनकी कला के बारे में है; इन चित्रकारों में अखिलेश स्वयं भी शामिल हैं। चित्रकारों के बारे में कुछ संस्मरण जैसी चीजें हैं, कुछ उनकी अपनी बातें हैं, और कुछ टिप्पणियां अखिलेश के द्वारा हैं जो उन चित्रकारों की कला की कुछ विशेषताएँ ही नहीं बतातीं, चित्रकला के कुछ अहम् पहलुओं और तमाम बुनियादी सवालों पर भी रोशनी डालती हैं। इस प्रकार यह चित्रकला के बारे में भी है। यह स्वयं अखिलेश के सरोकारों के बारे में है, जो केवल चित्रकला तक सीमित नहीं हैं, साहित्य, संगीत, और कला तथा राजनीति की वर्तमान टकराहटों तक फैले हुए हैं। और अन्ततः यह रचनाकार और गद्यकार अखिलेश के बारे में है।

More Information
Language Hindi
Format Hard Back
Publication Year 2010
Edition Year 2010, Ed. 1st
Pages 180p
Translator Not Selected
Editor Not Selected
Publisher Rajkamal Prakashan
Write Your Own Review
You're reviewing:Achambhe Ka Rona
Your Rating
Akhilesh

Author: Akhilesh "Bhopal "

अखिलेश

सुप्रसिद्ध चित्रकार, गद्य लेखक, अनुवादक।

जनम : 28 अगस्त, 1956; इन्‍दौर।

शिक्षा : नेशनल डिप्‍लोमा इन पेंटिंग (1978)।

प्रकाशित प्रमुख कृतियाँ : ‘दरसपोथी’, ‘अचम्‍भे का रोना’, ‘शीर्षक नहीं’, ‘देखना’, ‘मक़बूल फ़िदा हुसैन’ (कला-लेख); ‘मक़बूल’ (मक़बूल फ़िदा हुसैन की जीवनी का); ‘आप-बीती’ (मार्क शागाल की आत्‍मकथा का अनुवाद)।

सम्‍मान : ‘भारत भवन बिनाले सम्‍मान’, ‘रज़ा फ़ाउंडेशन सम्‍मान’, ‘कला कौस्‍तुभ सम्‍मान’, ‘वागेश्‍वरी सम्‍मान’, संस्‍कृति मंत्रालय, भारत सरकार की ‘सीनियर आर्टिस्‍ट फ़ेलोशिप’ आदि। 

सम्पर्क : 56akhilesh@gmail.com

Read More
Books by this Author
Back to Top