Maqbool Fida Husain

As low as ₹382.50 Regular Price ₹450.00
You Save 15%
In stock
Only %1 left
SKU
Maqbool Fida Husain
- +

मक़बूल फ़िदा हुसेन समकालीन भारतीय चित्रकला के अकेले ऐसे उदाहरण हैं जिन्होंने समकालीनता को अन्तरराष्ट्रीय पहचान दिलवाई और जीवन-भर इस दिशा में काम किया। प्रस्तुत पुस्तक में संगृहीत लेख उनकी इसी जीवटता, समर्पण, दूरदृष्टि और अथक परिश्रम को रेखांकित करते हैं। वे न सिर्फ़ सक्रिय रहे, बल्कि उन्होंने अनेक चित्रकारों को प्रेरित भी किया। युवा चित्रकारों के लिए आज भी वे प्रेरणा-स्रोत बने हुए हैं। उनकी चुम्बकीय उपस्थिति, उनका बेफ़िक्राना अन्दाज़, उनके सरोकार आदि सभी इतने व्यापक और पारम्परिक रहे कि उनमें आधुनिकता अपने उच्चतम रूप में प्रकट होती है। हुसेन के चित्रों को यदि एक वाक्य में परिभाषित किया जाए तो वह कुछ इस तरह का हो सकता है— “परम्परा अपनी आधुनिकता को हुसेन के चित्रों में सहजता से प्रकट करती है।”

हुसेन पर लिखे गए इन लेखों को एक जगह एकत्र करने के पीछे मेरी मंशा यह भी रही है कि अलग-अलग समय पर अन्यान्य कारणों से लिखे गए इन निबन्धों में हुसेन की बहुमुखी प्रतिभा का स्वाद पाठकगण ले सकें।

हुसेन निश्चित ही देश-काल, धर्म-विधर्म से परे अपनी रचनात्मकता में डूबे एक सच्चे कलाकार थे जिन्होंने जीवन-भर अपने को कसौटी पर कसे रखा। वे सक्रियता के पर्याय थे।

—भूमिका से

More Information
Language Hindi
Format Hard Back
Publication Year 2017
Edition Year 2017, Ed. 1st
Pages 98p
Translator Not Selected
Editor Not Selected
Publisher Rajkamal Prakashan
Dimensions 21 X 21 X 1.5
Write Your Own Review
You're reviewing:Maqbool Fida Husain
Your Rating
Akhilesh

Author: Akhilesh "Bhopal "

अखिलेश

सुप्रसिद्ध चित्रकार, गद्य लेखक, अनुवादक।

जनम : 28 अगस्त, 1956; इन्‍दौर।

शिक्षा : नेशनल डिप्‍लोमा इन पेंटिंग (1978)।

प्रकाशित प्रमुख कृतियाँ : ‘दरसपोथी’, ‘अचम्‍भे का रोना’, ‘शीर्षक नहीं’, ‘देखना’, ‘मक़बूल फ़िदा हुसैन’ (कला-लेख); ‘मक़बूल’ (मक़बूल फ़िदा हुसैन की जीवनी का); ‘आप-बीती’ (मार्क शागाल की आत्‍मकथा का अनुवाद)।

सम्‍मान : ‘भारत भवन बिनाले सम्‍मान’, ‘रज़ा फ़ाउंडेशन सम्‍मान’, ‘कला कौस्‍तुभ सम्‍मान’, ‘वागेश्‍वरी सम्‍मान’, संस्‍कृति मंत्रालय, भारत सरकार की ‘सीनियर आर्टिस्‍ट फ़ेलोशिप’ आदि। 

सम्पर्क : 56akhilesh@gmail.com

Read More
Books by this Author
Back to Top