Naye Bharat Kee Deemak Lagi Shahteeren : Sankatgrast Ganrajya Par Aalekh

Translator: Vyalok Pathak
As low as ₹359.10 Regular Price ₹399.00
You Save 10%
In stock
Only %1 left
SKU
Naye Bharat Kee Deemak Lagi Shahteeren
- +

यह हमारे समय पर की गयी टिप्पणी है कि जो लोग सत्ता के क़रीब हैं, वे भी सत्य बोलने से डरने लगे हैं... सत्ता के गलियारों में पैठे लोगों की आलोचना के प्रति बढ़ती असहिष्णुता के बावजूद, प्रभाकर सत्ता को आईना दिखाते हैं। यह हमारे संविधान में निहित मूल्यों के बचाव के प्रति उनकी आस्था का गवाह है।

संजय बारू, द एक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर के लेखक

भारत को और ज़्यादा परकालाओं की ज़रूरत है, लेकिन ऐसा होना बहुत कठिन है। उनके नज़रिये से सहमत होना अपने आप में कोई ख़ास बात नहीं है। ख़ास बात यह है कि यथास्थिति को चुनौती देने के उनके (और दूसरों के भी) अधिकार को स्वीकार किया जाए।

शोभा डे, द वीक

 

सुस्पष्ट और सुबोध शैली में लिखे गए इन आलेखों के विषय भी व्यापक हैं—भाजपा की जनसंख्या-राजनीति से लेकर हिजाब बनाम भगवा स्कार्फ़ तक और कृषि क़ानूनों से लेकर लखीमपुर खीरी तक... यह कहने में मुझे कोई हिचक नहीं कि यह किताब उन सबको पढ़नी चाहिए जिनमें सत्ता के सामने सच कहने का साहस है।

अविजित पाठक, द ट्रिब्यून

इस किताब में प्रभाकर ने जिन विषयों को लिखने के लिए चुना अनूठापन उनमें नहीं है... अनूठापन आँकड़ों और सांख्यिकी पर उनकी पकड़ में है। ...उससे भी अहम है आँकड़ों की उनकी व्याख्या जिसे वे हिन्दुत्व की बड़ी परियोजना की रौशनी में करते हैं जिसमें उनका अनुभव दिखाई देता है।

—सफ़वत ज़रगर, स्क्रॉल.इन

More Information
Language Hindi
Format Paper Back
Publication Year 2024
Edition Year 2024, Ed. 1st
Pages 248p
Translator Vyalok Pathak
Editor Not Selected
Publisher Rajkamal Prakashan
Dimensions 22 X 14 X 1.5
Write Your Own Review
You're reviewing:Naye Bharat Kee Deemak Lagi Shahteeren : Sankatgrast Ganrajya Par Aalekh
Your Rating
Parakala Prabhakar

Author: Parakala Prabhakar

परकाला प्रभाकर

परकाला प्रभाकर राजनीतिक अर्थशास्त्री, लेखक और सामाजिक टिप्पणीकार हैं। उन्होंने जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय और लंदन स्कूल ऑफ़ इकोनॉमिक्स में अध्ययन किया है। 2014 से 2018 के बीच आन्ध्र प्रदेश सरकार के संचार-सलाहकार रहे, उनका दर्जा कैबिनेट मंत्री का था। फ़िलहाल हैदराबाद में राइटफोलियो नामक एक ज्ञान उद्यम (थिंक टैंक या नॉलेज एंटरप्राइज) के प्रबन्ध निदेशक हैं। ताज़ातरीन मामलों पर स्तम्भ भी लिखते हैं। ‘मिडवीक मैटर्स’ उनका लोकप्रिय यूट्यूब चैनल है, जहाँ वह भारत की राजनीति, अर्थशास्त्र और वर्तमान समाज से जुड़े मसलों पर चर्चा करते हैं। भारत की वर्तमान वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण उनकी पत्नी हैं। उनकी बेटी हैं परकाला वाङमयी, जो पत्रकार हैं।

Read More
Books by this Author
Back to Top