Pratinidhi Kahaniyan : Uday Prakash

Author: Uday Prakash
As low as ₹97.50 Regular Price ₹150.00
You Save 35%
In stock
Only %1 left
SKU
Pratinidhi Kahaniyan : Uday Prakash
- +

उदय प्रकाश पिछले कई दशकों से हिन्दी के सर्वाधिक पढ़े जाने वाले कहानीकार रहे हैं। हिन्दी कहानी के फ़ॉर्म को आमूल बदलते हुए उन्होंने नई तरह की पठनीयता का आविष्कार किया जिसमें यथार्थ का पुनर्घटन अपने बहुत नज़दीक होता प्रतीत होता है। आप उन्हें पढ़ते हुए उनमें विचरते भी हैं। वे आपके सामने घटित होती प्रतीत होती हैं। आज वे अकेले ऐसे कहानीकार हैं जिनकी लगभग हर नयी कथा-रचना को एक साहित्यिक परिघटना की तरह देखा जाता है, जिनकी हर कहानी अक्सर सुदीर्घ बहसों को जन्म देती है और वर्तमान कथा-चेतना को एक नई दिशा भी। उनकी कहानी सिर्फ़ उन पात्रों की नहीं होती जिनके नाम हमें वहाँ पढ़ने को मिलते हैं, वह पूरे समाज, पूरी सभ्यता, अपने समूचे समय की कहानी होती है। उदय प्रकाश की कला के जानकार प्रखर आलोचक संजीव कुमार द्वारा किए गए इस प्रतिनिधि चयन में उनकी कुछ लम्बी और कुछ छोटी कहानियों को रखा गया है, ताकि पाठक उदय प्रकाश के विराट और सूक्ष्म, दोनों से परिचित हो सके।

More Information
Language Hindi
Format Hard Back, Paper Back
Publication Year 2023
Edition Year 2023, Ed. 1st
Pages 240p
Translator Not Selected
Editor Not Selected
Publisher Rajkamal Prakashan
Dimensions 18.5 X 12.5 X 2
Write Your Own Review
You're reviewing:Pratinidhi Kahaniyan : Uday Prakash
Your Rating
Uday Prakash

Author: Uday Prakash

उदय प्रकाश

उदय प्रकाश का जन्म 1952 में छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश के सीमान्त ज़िले अनूपपुर के छोटे से गाँव सीतापुर में हुआ। प्राथमिक-माध्यमिक शिक्षा गाँव और अनूपपुर में। विज्ञान में स्नातक तथा हिन्दी साहित्य में उत्तर-स्नातक, कप्तान अवधेश प्रताप सिंह विश्वविद्यालय, रीवा तथा सर हरिसिंह विश्वविद्यालय, सागर, मध्यप्रदेश। शोध तथा अध्यापन : जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय, नई दिल्ली। पूर्व प्राध्यापक जेएनयू तथा पोस्ट ग्रेजुएट स्टडीज़ सेंटर, इम्फाल, मणिपुर। टाइम्स रिसर्च फाउंडेशन, स्कूल ऑफ़ सोशल जर्नलिज़्म, नई दिल्ली तथा इंदिरा गांधी जन-जातीय राष्ट्रीय विश्वविद्यालय, अमरकंटक, मध्यप्रदेश में जन-संचार माध्यम एवं पत्रकारिता विभाग में प्राध्यापन तथा विभागाध्यक्ष। संस्कृति विभाग, मध्यप्रदेश शासन में विशेष कर्तव्य अधिकारी। कार्लटन कॉलेज, मिनिसोटा, अमेरिका में विज़िटिंग स्कॉलर, जर्मनी, अमेरिका, स्विट्ज़रलैंड, इटली, मॉरीशस आदि देशों के विश्वविद्यालयों और शिक्षण संस्थानों में व्याख्यान। ‘दिनमान’, ‘पूर्वग्रह’, ‘संडे मेल’, ‘एमिनेंस’ आदि पत्र-पत्रिकाओं में सम्पादन। दूरदर्शन के लिए टीवी धारावाहिकों का निर्देशन, निर्माण, शोध एवं लेखन। कई साहित्यकारों पर साहित्य अकादेमी तथा हिन्दी अकादेमी के लिए वृत्तचित्रों का निर्माण, निर्देशन।

प्रमुख कृतियाँ : ‘मोहन दास’, ‘पीली छतरी वाली लड़की’, ‘तिरिछ’, ‘वारेन हेस्टिंग्स का साँड़’, ‘और अंत में प्रार्थना’, ‘दरियाई घोड़ा’, ‘अरेबा-परेबा’, ‘मैंगोसिल’, ‘दत्तात्रेय के दुख’, ‘पॉल गोमरा का स्कूटर’ (कहानी-संग्रह)। ‘सुनो कारीगर’, ‘कबूतर-कबूतर’, ‘रात में हारमोनियम’, ‘अंबर में अबाबील’, ‘एक भाषा हुआ करती है’ (कविता-संग्रह)। अनुवाद : ‘कला अनुभव’, ‘इन्दे : रोम्यां रोलां की डायरी’, ‘अमृतसर इंदिरा गांधी की आखिरी लड़ाई’ के अतिरिक्त समय-समय पर विश्व के प्रमुख कवियों के अनुवाद।

पुरस्कार-सम्मान : ‘साहित्य अकादेमी’, ‘भारतभूषण अग्रवाल सम्मान’, ‘ओमप्रकाश सम्मान’, ‘सार्क राइटर्स सम्मान’, ‘कम्यूनल हार्मनी’, ‘सद्भावना’, ‘अन्तरराष्ट्रीय पुश्किन’, ‘पहल’, ‘मुक्तिबोध’, ‘प्रेमचन्द’, ‘वनमाली’, ‘कथाक्रम’, ‘द्विजदेव’ आदि सम्मान। अनुवादों के लिए राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय सम्मान एवं पुरस्कार।

लगभग सभी भारतीय तथा विश्व की तमाम प्रमुख भाषाओं में रचनाओं के अनुवाद तथा पुस्तकें प्रकाशित। सम्प्रति : स्वतंत्र लेखन, पत्रकारिता, यात्राएँ।

ई-मेल : udayprakash05@gmail.com

Read More
Books by this Author
New Releases
Back to Top