Lokpriyata Ke Shikhar Geet

Author: Vishnu Saxena
As low as ₹179.10 Regular Price ₹199.00
You Save 10%
In stock
Only %1 left
SKU
Lokpriyata Ke Shikhar Geet
- +

गीत तो गंगा की पावन पवित्र धारा के समान है। गीत का इतिहास बताता है कि हज़ारों वर्षों से चली आ रही इस परम्परा के साथ भले ही वक़्त छेड़छाड़ करता रहा हो, लेकिन उसके मूल स्वरूप को कोई नहीं बिगाड़ पाया, इसलिए ये गंगा पहले भी अपनी शान्त लहरों से जनमानस को आप्लावित करती रही और आज भी कर रही है।

मनुष्य के जन्म से लेकर मृत्यु तक, गीत अपना अस्तित्व बनाए रखता है, इसलिए हर अवसर पर गीत किसी न किसी रूप में हमारे सामने आकर खड़ा हो जाता है। वैसे अब तक गीतों के अनेक संकलन प्रकाशित हो चुके हैं लेकिन यह संकलन कई मायनों में अपने आप में इसलिए अनूठा है कि इसमें उन गीतों को शामिल किया गया है जो अपने समय में लोगों के गले का कंठहार बने। ये गीत इतने लोकप्रिय हुए कि कवि की पहचान बन गए।

प्रस्तुत संकलन में काव्य मंच के सभी लोकप्रिय गीतकारों के सर्वप्रिय, चर्चित गीतों को तो शामिल किया गया है, इसके अलावा उन गीतों को भी स्थान दिया गया है जो गीत लोकप्रिय तो होने चाहिए थे, लेकिन उन्हें समय पर उचित मंच नहीं मिला। इसलिए गीतकारों के गीतों की संख्या में भी समानुपात नहीं रखा गया है।

विश्वास है, हिन्दी गीतों का यह ख़ूबसूरत गुलदस्ता हिन्दी काव्य-प्रेमियों को महक तो देगा ही, साथ में तृप्ति का आभास भी कराएगा...।

More Information
Language Hindi
Format Hard Back, Paper Back
Publication Year 2013
Edition Year 2013, Ed. 1st
Pages 160p
Translator Not Selected
Editor Not Selected
Publisher Radhakrishna Prakashan
Dimensions 22 X 14.5 X 1.5
Write Your Own Review
You're reviewing:Lokpriyata Ke Shikhar Geet
Your Rating

Author: Vishnu Saxena

विष्णु सक्सेना

जन्म : 1959;  सहादतपुर, सिकन्दराराऊ, हाथरस (उ.प्र.)

शिक्षा : बी.ए.एम.एस. (राजस्थान वि.वि., जयपुर)

सम्मान : ‘मनहर सम्मान’, ‘देवी लाल सामर सम्मान’, ‘श्रेष्ठ गीतकार सम्मान’, ‘ओंकार तिवारी सम्मान’, ‘जनहित सम्मान’, ‘सुनील बजाज सम्मान’, ‘निर्झर साहित्य सम्मान’, ‘तूलिका साहित्य सम्मान’, ‘श्याम बाबा स्मृति सम्मान’, ‘महादेवी वर्मा सम्मान’, ‘कीर्तिमान सम्मान’, ‘गोपाल सिंह नेपाली सम्मान’, ‘तुलसी माखन स्मृति सम्मान’, ‘मेघश्याम स्मृति सम्मान’, ‘हरिवंश राय बच्चन सम्मान’, ‘राष्ट्र कवि मैथिलीशरण गुप्त सम्मान’ आदि कई राष्ट्रीय-अन्तरराष्ट्रीय सम्मानों से सम्मानित।

उपलब्धियाँ : देश की प्रतिष्ठित पत्र-पत्रिकाओं में साहित्यिक एवं चिकित्सा सम्बन्धी लेखों का निरन्तर प्रकाशन। आकाशवाणी तथा दूरदर्शन के राष्ट्रीय प्रसारणों में—‘इंडिया टीवी’, ‘सब टीवी’, ‘लाइव इंडिया टीवी’, ‘ई.टी.वी. उत्तर प्रदेश’ आदि चैनलों से काव्य पाठ। कैसेट—‘शंख और दीप’, सी.डी.—‘प्रेम कविता’, ‘तुम्हारे लिए भाग’, ‘ढाई आखर प्रेम के’। संकलन—‘मधुबन मिले न मिले’, ‘आस्था का शिखर’, ‘स्वर एहसासों के’, ख़ुशबू लुटाता हूँ मैं’।

यात्राएँ : ओमान, इज़राइल, अमेरिका, थाइलैंड, दुबई, हांगकांग, नेपाल, इग्लैंड, त्रिनिनाद एंड टोबेगो।

हिन्दी कवि सम्मेलन के मंचों पर विगत कई वर्षों से सफल और सर्वाधिक लोकप्रिय गीतकार के रूप में विख्यात।

Read More
Books by this Author
Back to Top