शाह तुराब अली क़लन्दर के फ़ारसी और उर्दू कलाम के साथ साथ उनकी ठुमरियों का पहली बार हिन्दी में प्रकाशन हो रहा है. किताब के संपादक सुमन मिश्र हैं..

More Information
Language Hindi
Format Paper Back
Publication Year 2023
Edition Year 2023, Ed. 1st
Pages 170p
Translator Not Selected
Editor Suman Mishra
Publisher Rajkamal Prakashan - Rekhta Books
Dimensions 22 X 14 X 1
Write Your Own Review
You're reviewing:Jogiya Rang ki Bahar
Your Rating

Author: Shah Turab Ali Qalandar

शाह तुराब अली क़लन्दर

शाह तुराब अली क़लन्दर काकोरी के प्रसिद्ध सूफ़ी बुज़ुर्ग थे. उन्होंने फ़ारसी और उर्दू के साथ-साथ ब्रज भाषा में ठुमरियाँ भी लिखीं, जो अमृत रस के नाम से प्रकाशित हुई हैं. उनकी ठुमरियों में हिंदुस्तान की गंगा-जमुनी संस्कृति की ऐसी मज़बूत कड़ियाँ मिलती हैं, जिन कड़ियों ने आज भी हिंदुस्तान के वैविध्य को जोड़ रखा है.

Read More
Books by this Author
Back to Top