Kyon Alag Hai Stree-Purush Ka Prem

Health & Fitness Books,Self-Help
500%
() Reviews
As low as ₹175.00
ISBN:9788183619141
In stock
SKU
Kyon Alag Hai Stree-Purush Ka Prem
- +

प्रेम जीवन का अनिवार्य विषय है। जीवनसाथी से प्रेमपूर्ण सम्बन्ध जीवन की सफलता और आनन्द का मूल है। हम सभी प्रेम करना और पाना चाहते हैं लेकिन उसे सीखना नहीं चाहते। जीवन का एक बहुत बड़ा और महत्त्वपूर्ण सबक़ हमें कोई भी नहीं सिखाता। इसके लिए स्कूल और कॉलेजों में कोई विषय नहीं है और ना कोई अध्यापक। अगर हम प्रेम के बारे में थोड़ा-बहुत जानते भी हैं तो वही फ़िल्मों वाला प्रेम या दोस्तों की गप्पें, यह दोनों ही ज्ञान अपूर्ण और भ्रामक होते हैं जो कि हमारे प्रेम को ग़लत दिशा में ले जाते हैं और शादियाँ तलाक़ में या फिर कारावास में बदल जाती हैं।

स्त्री और पुरुषों में भिन्नताएँ होती हैं, वे अलग होते हैं, चाँद और सूरज की ही तरह अलग-अलग। इन दोनों की वैचारिक भिन्नताएँ आग और पानी की ही तरह अलग-अलग होती हैं। पति-पत्नी या प्रेमी-प्रेमिका अपने प्रेम को हमेशा क़ायम रख ही नहीं सकते जब तक कि वे एक दूसरे की भिन्नताओं को जानकर उन्हें स्वीकार ना कर लें। यह पुस्तक इन्हीं भिन्नताओं को उजागर करेगी, आपको प्रेम करना और उसे जीवन-भर क़ायम रखना सिखाएगी। यह पुस्तक आपकी गुरु, साथी और एक मार्गदर्शक के रूप में आपकी हमेशा मदद करेगी। यह आपको वह सिखाएगी जो दुनिया के अधिकतर लोगों को नहीं आता—जी हाँ, 'प्रेम करना'!

More Information
Language Hindi
Format Paper Back
Publication Year 2019
Edition Year 2019, 1st Ed.
Pages 200p
Translator Not Selected
Editor Not Selected
Publisher Radhakrishna Prakashan - Funda
Dimensions 20 X 14 X 2
Write Your Own Review
You're reviewing:Kyon Alag Hai Stree-Purush Ka Prem
Your Rating

Editorial Review

It is a long established fact that a reader will be distracted by the readable content of a page when looking at its layout. The point of using Lorem Ipsum is that it has a more-or-less normal distribution of letters, as opposed to using 'Content here

Abrar Multani

Author: Abrar Multani

डॉ. अबरार मुल्तानी आप एक प्रख्यात आयुर्वेद विशेषज्ञ होने के साथ-साथ स्वास्थ्य लेखन में पिछले कई वर्षों से अपनी सेवाएँ दे रहे हैं। अभी तक हज़ारों जटिल एवं जीर्ण रोगियों के उपचार का अनुभव आपको प्राप्त है। प्राचीन भारतीय चिकित्सा पद्धति को नवीन रूप में प्रस्तुत कर लोगों में आयुर्वेद के प्रति फैली भ्रान्तियों को मिटाने में, आयुर्वेद का प्रचार-प्रसार करने में आप एक अग्रणी नाम हैं। बॉडी, माइंड एंड सोल (शरीर, मन और आत्मा) का अद्भुत सम्मिश्रण कर चिकित्सा करने में महारत है। आप हिजामा थेरैपी को भारत में प्रचलित करने में अग्रज हैं। आप ‘इंक्रेडिबल आयुर्वेदा’ के संस्थापक हैं तथा ‘स्माइलिंग हार्ट्स’ नामक संस्था के प्रेसिडेंट हैं। आप देश के पहले आनन्द मंत्रालय की गवर्निंग कमेटी के सदस्य भी हैं। ‘बीमार होना भूल जाइए’ और ‘सोचिए और स्वस्थ रहिए’ आपकी बेस्टसेलर पुस्तकें हैं। आयुर्वेद चिकित्सकों के लिए लिखी आपकी पुस्तकें भी उस श्रेणी की बेस्टसेलर हैं। आप प्रतिष्ठित पत्र-पत्रिकाओं में स्तम्‍भकार भी हैं और कई अन्य प्रसिद्ध पुस्तकों के लेखक भी हैं–‘मोटापे से ब्रेकअप’, ‘प्रेग्नेंसी एंड चाइल्ड केयर गाइड’, ‘बीमारियाँ हारेंगी’, ‘जीना सिखा देंगी’, ‘एक वाक्य से ज़िन्दगी बदल सकती है’, ‘ ज़िन्दगी बदल देंगी’, ‘प्रदूषित काया का शुद्धिकरण’, ‘10 कमांडमेंट्स ऑफ़ पीस’, 'Forget to be ill', 'Al-Hijama', 'Practical Prescriber for Ayurveda Physicians', '200 Golden Health Tips by Prophet Muhammed S.A.W.', '100 Nectar on Earth For You', 'Lets Wipe My Country's Tears', 'Problems Inside the Bedroom and their Solution'.

Read More
Books by this Author

Back to Top