Acharya Hazariprasad Dwivedi Ke Upanyas

You Save 15%
Out of stock
Only %1 left
SKU
Acharya Hazariprasad Dwivedi Ke Upanyas

प्रस्तुत कृति में आचार्य हजारीप्रसाद द्विवेदी के उपन्यासों और उनमें वर्णित उदात्त पात्रों की जीवन-दृष्टि को रेखांकित करने का प्रयास किया गया है। पुस्‍तक में उपन्यासों का सामान्य परिचय स्त्री-चरित्र शिल्प और पुरुष-चरित्र शिल्प के विभिन्न पक्षों को समाहित करते हुए उनकी विशेषताओं को उदघाटित करने का प्रयास करने के साथ चरित्र-शिल्प की दृष्टि से द्विवेदी जी का महत्त्व दर्शाया गया है। आचार्य हजारीप्रसाद द्विवेदी की प्रतिभा ने अतीतकालीन चेतना प्रवाह को वर्तमान जीवनधारा से जोड़कर आश्चर्यजनक सफलता प्राप्त की है। उनकी विपुल रचना साहित्य का रहस्य उनके विशद शास्त्रीय ज्ञान में नहीं, बल्कि पारदर्शी जीवन-दृष्टि में निहित है जो युग का नहीं युग-युग का सत्य देखती है। प्रस्तुत पुस्तक शोधार्थियों तथा पाठकों का मार्गदर्शन करने में सहायक सिद्ध होगी।

More Information
Language Hindi
Format Hard Back
Publication Year 2018
Edition Year 2018, Ed. 1st
Pages 130P
Translator Not Selected
Editor Not Selected
Publisher Lokbharti Prakashan
Dimensions 22 X 14.5 X 1
Write Your Own Review
You're reviewing:Acharya Hazariprasad Dwivedi Ke Upanyas
Your Rating
Pallavi Srivastva

Author: Pallavi Srivastva

पल्लवी श्रीवास्तव

शिक्षा : बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर बिहार विश्वविद्यालय से हिन्‍दी में एम.ए. एवं पीएच.डी., यू.जी.सी. नेट (हिन्‍दी) की उपाधि।

प्रकाशन : ‘अनुशीलन’, ‘अनासक्ति दर्शन’, ‘समीक्षा’, ‘शुद्ध समीक्षा’, ‘जर्नल ऑफ़ रिसर्च एंड रिव्यू’, ‘दैनिक जागरण’ आदि पत्र-पत्रिकाओं में समीक्षात्मक लेख, शोध-पत्र तथा कविताएँ प्रकाशित।

 

Read More
Books by this Author
Back to Top