Author

Yugank Dhir

0 Books

युगांक धीर

युगांक धीर पंजाब में जन्मे, दिल्ली में पले-बढ़े और मुम्बई में कार्यरत रहे। सात वर्ष तक ‘धर्मयुग’ से जुड़े रहे। ‘एक ज़िन्दगी काफ़ी नहीं, ‘इज़ाडोरा की प्रेमकथा’, ‘रूसो की आत्मकथा’, ‘गॉन विद द विंड’ और ‘द फ़र्स्ट लेडी चटर्ली’ जैसी लगभग एक दर्जन कृतियों के अनुवाद कर चुके हैं।

All Yugank Dhir Books
Back to Top