• (011) 23274463
  • Help
INR
 
Shopping Cart (0 item)
My Cart

You have no items in your shopping cart.

You're currently on:

Prayojanmoolak Hindi

Prayojanmoolak Hindi

Availability: In stock

-
+

Regular Price: Rs. 460

Special Price Rs. 415

10%

  • Pages: 359p
  • Year: 2009
  • Binding:  Hardbound
  • Language:  Hindi
  • Publisher:  Lokbharti Prakashan
  • ISBN 13: 9788180310559
  •  
    स्वतंत्र भारत में हिंदी विविध रूपों में प्रयुक्त होती है ! इस पहलू का अध्ययन 'प्रयोजनमूलक अध्ययन' कहलाता है ! बम्बइया बाजार में ग्राहक दूकानदार से कहता है-"हम को फ्रेश भाजी मांगता है !" यह भी हिंदी है ! स्वस्थ्य-विज्ञान का निम्नलिखित वाकया भी हिंदी है-"मानव का रक्तचाप संतुलित रखना स्वस्थ्य के लिए आवश्यक है !" हिंदी भाषा के ऐसे विविध प्रयोजनों में अब प्रशासन सबसे महत्तपूर्ण हो गया है ! स्वतंत्र भारत की सरकार ने हिंदी को राजभाषा का पद दिया तो उसके प्रशासनिक स्वरुप का अध्ययन जोरों से होने लगा ! इसी के फलस्वरूप अब प्रकाशन-क्षेत्र में प्रयोजनमूलक हिंदी पर कई पुस्तके मिलती हैं ! डॉ. लता की यह पुस्तक इस दिशा की नवीनतम रचना है ! लता वर्षों से प्रयोजनमूलक हिंदी सिखाती रही है ! अतएव उसने बहुत से प्रमाणिक ग्रंथो का मनन-मंथन करके यह नवनीत निकाला है ! अनुभवी प्राध्यापिका ने छात्रों की जरूरत पहचानकर उनसे न्याय किया है ! उसकी भाषा स्पष्ट व् सरल है ! तकनिकी लेखन की यह पहली शर्त है !

    Customer Reviews

    There are no customer reviews yet.

    Write Your Own Review

    Madhav Sontake

    माधव सोनटके

    • Sarthak An Imprint of Rajkamal Prakshan
    • Chahak An Imprint of Rajkamal Prakshan
    • Funda An Imprint of Radhakrishna
    • Korak An Imprint of Radhakrishna

    Location

    Address:1-B, Netaji Subhash Marg,
    Daryaganj, New Delhi-02

    Mail to: info@rajkamalprakashan.com

    Phone: +91 11 2327 4463/2328 8769

    Fax: +91 11 2327 8144